PM-JAY आयुष्मान भारत योजना 2023। हरियाणा गोल्डन कार्ड कैसे बनवाए।

Please Share This

PM-JAY आयुष्मान आयुष्मान भारत योजना 2023 ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन हरियाणा। 

ऑनलाइन आयुष्मान कार्ड कैसे बनाएं 2023 | 2023 आयुष्मान योजना में आवेदन कैसे करें? | आयुष्मान भारत योजना रजिस्ट्रेशन CSC | आयुष्मान भारत कार्ड के लिए आवेदन कैसे करें? | Ayushman Bharat Yojana Online Registration 2023. |

नमस्कार दोस्तों आज हम फिर हाजिर है एक नए लेख के साथ। PM-JAY Ayushman Bharat Yojana :- आयुष्मान भारत योजना समाज के ऐसे वर्ग के लोग इसका फायदा उठा सकते है, जो आर्थिक रूप से बहुत ही गरीब है। इस योजना को प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना (PM-JAY) भी कहा जाता है। इस योजना के फलस्वरूप देश के लगभग 10.74 करोड़ से भी अधिक गरीब परिवारों या लगभग 50 करोड़ लाभार्थियों को लाभ दिया जाएगा।

पूरे भारतवर्ष में इस योजना को 1 अप्रैल 2018 से लागू किया गया। हमने अपने पिछले आर्टिकल में बताया था की हरियाणा आयुष्मान लिस्ट कैसे डाउनलोड करें। व Ayushman LIst में नाम कैसे देखे? आज के इस लेख के माध्यम से हम आपको ये बताएंगे, की आप आयुष्मान भारत योजना के फॉर्म को आप कैसे अप्लाई कर सकते है। इस योजना के क्या लाभ है क्या उद्देश्य है और इस योजना के फॉर्म को भरने में क्या -क्या डॉक्युमेंट्स चाहिए।

क्या है PM-JAY आयुष्मान भारत योजना और इसके लाभ। 

भारत सरकार द्वारा देश के आर्थिक रूप से गरीब लोगो के लिए बहुत सी योजनाओं की शुरूआतं की हुई है। उन्हीं योजनाओं में से एक योजना आयुष्मान भारत योजना है। जिसकी शुरुआत भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के द्वारा की गई है। इस आयुष्मान भारत योजना के तहत भारत के आर्थिक रूप से गरीब परिवार के लोग प्रति परिवार प्रति वर्ष 5 लाख तक मुक्त इलाज शारीरक बीमारी होने पर करवा सकते है। इसके लिए केंद्र सरकार ने आर्थिक रूप से गरीब परिवार के लोगों को गोल्डन कार्ड वितरित किए है। जिनकों लाभार्थी सरकार द्वारा अनुमानित हॉस्पिटल में दिखा कर अपना इलाज करवा सकते है। यह एक प्रकार से सरकार द्वारा लोगो को Health Insurance प्रदान किया है।

आयुष्मान भारत योजना (Ayushman Bharat Yojana 2023) का उद्देश्य। 

गरीब परिवार के लोग अपनी आर्थिक स्थिति के कारण हॉस्पिटलों में अपना इलाज नहीं करा सकते और अपना इलाज का खर्च भी नहीं उठा सकते। इस योजना के माध्यम से गरीब परिवारो का 5 लाख तक का स्वास्थ्य बीमा करा कर उनकी मदद की जाएगी। जिससे उनका अस्पतालों में Free इलाज हो सके। इस योजना के जरिये जो गरीब परिवार है उनकी स्वास्थ्य संबंधित परेशानियो को दूर कर देश में मृत्यु दर को कम करना है।

 स्वास्थ्य एवं कल्याण केंद्र (HWCs) Ayushman Bharat Yojana.

भारत सरकार ने मौजूदा उप केंद्रों और प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्रों को बदलकर 1,50,000 स्वास्थ्य एवं कल्याण केंद्र बनाने की पुष्टि की गयी है। इसे फरवरी 2018 को शुरू किया गया था। इस पहल के जरिये लोगों को स्वास्थ्य सेवाएं समय पर और लगो के घरों तक उपलब्ध हो सकेंगी। इन स्वास्थ्य एवं कल्याण केंद्र में मुफ्त आवश्यक दवाइया, गैर-संचारी व मातृ एवम  बाल स्वास्थ्य सेवाएँ भी उपलब्ध हैं। सरकार द्वारा इस योजना को लागु करने का मुख्य उदेश्य लोगों को स्वास्थ्य के प्रति सशक्त व मजूबत बनाने के साथ साथ बीमारियों और उनसे होने वाले जोखिम से सुरक्षित रखना है।

प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना (PM-JAY) की शुरुआत कहाँ से हुई?

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पंडित दिनदयाल उपाध्याय के जन्मदिन पर 25 September 2018 को झारखंड के रांची जिले से इस योजना की शुरुआत की। इस योजना के तहत प्रति परिवार प्रतिवर्ष 5 लाख रूपये का Health Insurance या यु कहिए की मुफ्त में इलाज किया जाएगा। जो की भारत की आबादी का लगभग 40% हिस्सा यानी की 10.74 करोड़ से भी ज्यादा है। स्वास्थ्य सेवाओं वंचित और गरीब परिवार के लोग इस योजना का लाभ ले सकेंगे। प्रधानमंत्री जन आरोग्य (पीएम जय) योजना को पहले राष्ट्रीय स्वास्थ्य सुरक्षा योजना (NHPS) के नाम से भी जाना जाता था।

PM-JAY आयुष्मान भारत योजना का लक्ष्य क्या है? 

आयुष्मान भारत योजना के माध्यम से सरकार सभी ग्रामीण और शहरी क्षेत्रों के गरीबों के लिए स्वास्थ्य बीमा प्रधान कराना चाहती है। साल 2011 की जनगणना के मुताबित ग्रामीण क्षेत्रों के 8.03 करोड़ और शहरी क्षेत्रों  के 2.33 करोड़ गरीब परिवार आयुष्मान भारत योजना का लाभ ले सकेंगे। लगभग ( 50 करोड़) लोग इस योजना के अंडर आएंगे।

आयुष्मान भारत योजना के मुख्य तथ्य व महत्त्वपूर्ण लिंक। 

योजना का नामAyushman Bharat Yojana 2023
शुरू की गई प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी द्वारा
आरंभ की गई14 अप्रैल 2018
योजना में आवेदन का प्रकारऑनलाइन माध्यम
आवेदन करने की तिथि  आप कभी भी योजना का लाभ उठा सकते है.
योजना का मुख्य उदेश्य देश में मृत्यु दर में सुधार।
लाभार्थीदेश के गरीब व आर्थिक रूप से कमजोर नागरिक
योजना का लाभ5 लाख तक का Health Insurance
बिमारियों का इलाज 1350
ऑफिसियल वेबसाइटpmjay.gov.in

ग्रामीण इलाकों के लिए आयुष्मान भारत योजना योग्यता क्या है। 

  • आयुष्मान योजना लिस्ट में नाम होना आवश्यक। ( Pm-Jay Letter)
  • ग्रामीण क्षेत्रों  में जिनके पास कच्चा मकान हो।
  • जिस परिवार की मुखिया एक महिला हो।
  • व्यक्ति दिहाड़ी मजदूरी करता हो।
  • जिन व्यक्तियों के पास मकान नहीं हो।
  • जो भीख मांगते हो।
  • जिस परिवार की मासिक आय 10000 से कम हो।
  • भूमिहीन गरीब किसान व असाहय परिवार।

शहरी क्षेत्र  के लिए (Ayushman Bharat Yojana-PM-JAY) योग्यता।

शहरी इलाकों में जो व्यक्ति भिखारी हो, घरेलू कामकाज करता हो, सड़क पर रेहड़ी लगाता हो और पटरियों पर सामान बेचता हो, फेरी लगाने वाले, सड़को पर मजदूरी करता हो या फिर जो व्यक्ति मिस्त्री का काम करता हो, मजदूर, पेंट करने वाले, सामान ढोने वाले इसके साथ साथ सफाई करने वाले, दूसरो की दुकानों पर काम करने वाले, जो व्यक्ति रिक्शा चलाता हो, सिलाई का काम करने वाले, ड्राईवर आदि ऐसे व्यक्तियों को आयुष्मान भारत योजना में जोड़ा जायेगा।

PM-JAY Ayushman Bharat Yojana (पीएम- जय ) के तहत मिलने वाला लाभ।

प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना का लाभ लेने के लिए सामाजिक, आर्थिक जाति जनगणना के आंकड़ो का इस्तेमाल किया गया हो। और आयुष्मान भारत योजना का लाभ लेने के लिए परिवार के किसी भी व्यक्ति की उम्र तय नहीं की गई है। सरकार इस योजना के तहत प्रति परिवार प्रति वर्ष 5,00,000 रुपये मुहैया कराती है। PM-JAY योजना के अनुसार निम्नलिखित चिकित्स्क उपचार व लाभ निशुल्क उपलब्ध हैं। :-

  1. सामन्य चिकित्सा प्रणाली।
  2. सामन्य उपचार और डॉक्टर से परामर्श।
  3. वाल्व रिप्लेसमेंट।
  4. इस योजना के तहत आप अपने दाँतों का इलाज भी करवा सकते है।
  5. एंटीरियर स्पाइन फिक्सेशन।
  6. डबल वाल्व रिप्लेसमेंट।
  7. प्रोस्टेट कैंसर।
  8. बाईपास तरीके से कोरोनरी आर्टरी का बदलाव।
  9. सर्जरी।
  10. करॉटिड एनजीओ प्लास्टिक।
  11. टिश्यू एक्सपेंडर।
  12. और इसी तरह अन्य दुर्लभ बीमारियों से ग्रसित लोगो को आयुष्मान भारत योजना के तहत इलाज मिलेगा।

आयुष्मान भारत योजना की प्रमुख विशेषताए और लाभ का ब्यौरा जाने हिंदी में।

यह योजना दुनिया की सबसे बड़ी सरकारी स्वास्थ्य सेवा योजना है इस योजना का लाभ लगभग 50 करोड़ लोग ले सकेंगे। आयुष्मान कार्ड योजना की मुख्य विशेषता कुछ इस प्रकार है। :-

  • बीमा कवरेज प्रत्येक परिवार का सालाना 5 लाख रूपये है।
  • इस योजना का लाभ लेने के लिए आधार कार्ड की आवश्यकता नहीं।
  • आपका आयुष्मान कार्ड योजना में रजिस्ट्रेशन ekyc करवाने के बाद आपको PM-JAY Golden Card वितरित कर दिया जाता। इसमें लगे QR Code की साहयता से ही लाभ लेने वाले व्यक्ति की पहचान हो जाएगी ।
  • इसके साथ ही बीमारी से पीड़ित व्यक्ति को मुफ्त दवाईया व चिकित्सा जाँच का लाभ भी दिया जाएगा।
  • मेडिकल जांच और ऑपरेशन का इलाज भी इस योजना के तहत कवर होंगे।
  • घायल व बीमार व्यक्ति के अस्पताल में एडमिट होने से पहले व बाद के खर्च को भी PM-JAY योजना के तहत कवर किया गया है।
  • बीमार/ घायल व्यक्ति के अस्पताल में ठहरने का खर्च भी सरकार के इस Health Insurance योजना में कवर किया गया है।
  • बीमार/ घायल व्यक्ति को अस्पताल में लाने व ले जाने का खर्च भी इस योजना में कवर किया गया है।
  • साथ ही हॉस्पिटल में खाने का ख़र्चा भी PM-JAY के तहत कवर किया गया है।
  • योजना के तहत बीमार/ घायल व्यक्ति का उपचार के समय होने वाली समस्या को भी कवर किया गया है।
  • आयुष्मान भारत योजना के तहत सरकार योजना के लाभार्थी का अस्पताल में भर्ती होने के बाद 15 दिनों तक की देखभाल का खर्च भी कवर किया गया है।
  • प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना में पुरानी बीमारियों को कवर किया जायेगा।
  • इस योजना का लाभ कही भी सरकारी अस्पतालों में लिया जा सकता है।

Ayushman Bharat Yojana पंजीकरण करवाने के लिए जरूरी दस्तावेज।

  •  आधार कार्ड।
  •  राशन कार्ड।
  •  एड्रेस प्रूफ।
  •  मोबाइल नंबर।
  • PM-JAY लेटर।

Ayushman Bharat cARD (Pm-jay card) 2023 बनवाने की प्रोसेस।

  • जो व्यक्ति इस योजना का लाभ लेना चाहता है तो वह पंजीकरण की विधि को अच्छे से पढ़े, तभी वह इस योजना का लाभ उठा पाएंगे।
  • प्रधानमंत्री आयुष्मान भारत कार्ड का रजिस्ट्रेशन करवाने के लिए आपका नाम आयुष्मान योजना लिस्ट में होना आवश्यक है। या फिर आपके पास भारत सरकार द्वारा भेजा गया आयुष्मान लेटर होना आवश्यक है।
  • इसके लिए आपको अपने नजदीकी जन सेवा केंद्र (CSC) में Pm-Jay Letter और Aaadhaar Card लेकर जाना होगा। और परिवार में आपको जिनका भी आयुष्मान भारत योजना का Goldn Card बनवाना है उन सभी को CSC Center पर जाना होगा।
  • वहां जनसेवा केंद्र के एजेंट द्धारा आपके आधार कार्ड के तहत आपकी बायोमैट्रिक की जाएगी। लगभग 5 दिन के अंदर ही आपका आयुष्मान Goldn Card सरकार द्वारा वेरीफाई होने के बाद जनसेवा केंद्र के एजेंट द्धारा आपको वितरित कर दिया जाएगा।

आयुष्मान भारत योजना हेल्पलाइन नंबर क्या है?

Address:
3rd, 7th & 9th Floor, Tower-l, Jeevan Bharati Building,
Connaught Place, New Delhi – 110001
Toll-Free Call Center Number: 14555/ 1800111565

Helpline Number

हमने आपको अपने इस आर्टिकल के माध्यम से आयुष्मान भारत योजना कार्ड कैसे बनवाए और गोल्डन कार्ड के लाभ से संबंधित सभी जानकारी आपको अपने इस लेख में प्रदान कर दी है। यदि आपको अब भी अपना Pm-jay Card बनवाने में कोई समस्या है तो आप pmjay.gov.in की ऑफिसियल वेबसाइट पर विजिट करके अपना समाधान कर सकते है। क्योकि वेबसाइट पर टोल फ्री नंबर 14555/1800111565 है। व जीमेल आईडी भी प्रदान की गयी है।

निष्कर्ष:-

दोस्तों मुझे पूरा विशवास है की आज की हमारी पोस्ट (Haryana Ayushman Bharat Yojana Card Apply 2023  –  आपको बहुत ही अच्छी लगी होगी। इसलिए पोस्ट को Share करना ना भूले। अगर अब भी कुछ कमी है। तो हमे Comment करके जरूर बताए। और ऐसी ही नई जानकारी लेने के लिए हमारी Website को सब्सक्राइब जरुर करे.

Read More-
Please Share This

1 thought on “PM-JAY आयुष्मान भारत योजना 2023। हरियाणा गोल्डन कार्ड कैसे बनवाए।”

Leave a Comment